Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

लेजेंड ऑफ़ महराजगंज कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों के प्रमुख हस्तियों को किया गया सम्मानित

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

लेजेंड ऑफ़ महराजगंज कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों के प्रमुख हस्तियों को किया गया सम्मानित

प्रमिला होमियो क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर के द्वारा मनाई गई डॉक्टर सैमुअल हैनीमैन जयंती

महाराजगंज l होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ हेमंत श्रीवास्तव और प्रमिला होम्योपैथिक एवं रिसर्च सेंटर महाराजगंज की ओर नगर के एक होटल में लीजेंड आफ महराजगंज कार्यक्रम का आयोजन कर जहां एक तरफ महराजगंज जनपद में विभिन्न क्षेत्रों में अच्छे कार्य करने वाले सामाजिक नागरिकों का सम्मान किया गया वहीं होम्योपैथिक के जन्मदाता डॉक्टर सैमुअल एनिमल की जयंती भी मनाई गई l कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों ने डॉ हेमंत श्रीवास्तव के द्वारा किए जा रहे चिकित्सकीय कार्य की सराहना किया एवं विश्व पटल पर जनपद का नाम स्थापित करने के लिए धन्यवाद भी दिया
विश्व होम्योपैथिक दिवस के अवसर पर प्रमिला होमियो क्लिनिक एंड रिसर्च की ओर से
डॉ हेमंत श्रीवास्तव ने बताया डॉक्टर हैनीमैन ने होम्योपैथी की खोज कर कई लोगों की जिंदगियों को बचाया है इस चिकित्सा प्रणाली द्वारा गंभीर और असाध्य रोगों का भी सुगमता से उपचार किया जाता है एवं बीमारी को समूल नष्ट किया जाता है। होम्योपैथिक एक ऐसी चिकित्सा प्रणाली है जो विश्व की दूसरे नंबर की चिकित्सा श्रेणी में आता है एवं न केवल अपने देश में बल्कि विदेशों में भी इसका काफी बोलबाला है काफी लोग इस चिकित्सा प्रणाली से जुड़कर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं और अपने शरीर को रोग मुक्त कर रहे हैं। कार्यक्रम के अध्यक्ष पीजी कॉलेज के प्रबंधक डॉक्टर बलराम भट्ट ने बताया कि होम्योपैथी द्वारा किसी भी रोगों को उसके लक्षण के अनुसार इलाज कर बीमारी को समूल नष्ट किया जाता है। होम्योपैथी के अनुसार यदि किसी पदार्थ से एक स्वस्थ व्यक्ति में बीमारी के लक्षण होने लगते हैं, तो वही पदार्थ उसे थोड़ी सी मात्रा में देने पर वह ठीक हो सकता है। होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के सिद्धांत के रूप में होम्योपैथिक दवाएं शरीर की अपने आप ठीक होने की क्षमता को बढ़ा देती है। होम्योपैथी के चिकित्सकों को होम्योपैथ कहा जाता है जो नियमों के अनुसार पहले रोग का निदान करते हैं और फिर परिणामों के अनुसार दवाएं व अन्य उपचार थेरेपी निर्धारित करते है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सामाजिक संस्था सिटीजन फोरम के अध्यक्ष डॉक्टर आरके मिश्रा ने कहा कि इलाज के दौरान आमतौर पर मरीज को गोलियां व घोल दिए जाते हैं, जिन्हें एक निश्चित मात्रा में दवा के सक्रिय तत्व होते हैं। हालांकि, विज्ञान की तरफ से अभी तक कोई ऐसा प्रमाण नहीं मिल पाया है, जिसमें होम्योपैथी दवाओं को किसी रोग के इलाज के लिए प्रभावी बताया गया हो। अंत में डॉक्टर हेमंत श्रीवास्तव ने शिक्षा क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए डॉक्टर बलराम भट्ट शिक्षा क्षेत्र में श्री विजय बहादुर सिंह
सामाजिक क्षेत्र में कार्य के लिए डॉक्टर आरके मिश्रा विज्ञान के क्षेत्र में कार्य के लिए विमल कुमार पांडे और अमरेंद्र शर्मा कार्यक्रमों में संचालन और समन्वयवादिता के लिए डॉक्टर शांति शरण मिश्रा सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के क्रम में देवेश कुमार पांडे दिलीप कुमार शुक्ला एजाज खान सलीम खान डॉक्टर घनश्याम शर्मा सेवा के सेवानिवृत श्री रविंद्र बहादुर सिंह राम प्रकाश गुप्ता सामाजिक क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए ठूठीबारी के आशीष रौनियार निचलौल के विनोद मिश्रा फरांडा के प्रदीप कटियार महराजगंज के राकेश गुप्त आदि को प्रतीक चिन्ह और अंग वस्त्र देकर डॉक्टर हेमंत श्रीवास्तव ने सम्मानित किया। आए हुए सभी अतिथियों के प्रति आभार व्यापित किया कार्यक्रम का संचालन देवेश पाण्डेय और पंकज मौर्या ने संयुक्त रूप से किया l