Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

प्रॉपर्टी के विवाद में हुई थी बजरंगी की हत्या

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

प्रॉपर्टी के विवाद में हुई थी बजरंगी की हत्या

रिपोर्टर:- आलोक अवस्थी

-अजीतगंज थाना बाबूपुरवा के प्लाट को लेकर चल रहा था विवाद
-29 दिसंबर की दोपहर को परसौली में हुआ था बजरंगी पर हमला
-गंभीर रूप से घायल बजरंगी की इलाज के दौरान हुई थी मौत
-15 हजार का इनामी और शातिर किस्म का अपराधी है दीपक
-पुलिस ने तीनों हत्यारोपियों को गिरफ्तार करके खोला हत्याकांड
-पुलिस आयुक्त ने टीम को 15 हजार इनाम देने की घोषणा

कानपुर: बजरंगी उर्फ वीरु मौर्या की हत्या थाना बाबूपुरवा के अजीतगंज स्थित प्लाट को लेकर चल रहे विवाद के कारण हुई थी। 29 दिसंबर को हुई मारपीट में घायल बजरंगी की अगले दिन मौत हो गई थी। पुलिस ने मुकदमे में हत्या की धारा बढ़ाकर मामले की जांच शुरु की तो पता चला कि हत्याकांड और विवाद में शातिर किस्म और 15 हजार का इनामी दीपक कनौजिया शामिल है। डीसीपी साउथ ने अपनी स्पेशल टीमों को लगाकर हत्या कांड में शामिल तीनों आरोपियों को दबोच लिया।

मृतक बजरंगी उर्फ वीरु मौर्या प्लंबरिंग करने के साथ ही प्रॉपर्टी डीलर का काम करता था। इसी बीच थाना बाबूपुरवा के अजीतगंज स्थित प्लाट जो कि राजू अग्रवाल का है। राजू भी शातिर किस्म का अपराधी है। इसी प्लाट को लेकर बजरंगी