Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

खरगोन बड़वानी जिले की पटेल संसद की बैठक सफ़लता पूर्वक संपन्न हुई

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

खरगोन बड़वानी जिले की पटेल संसद की बैठक सफ़लता पूर्वक संपन्न हुई…!
दिनांक 27 मार्च 2023 को सेंधवा आदिवासी सामुदायिक भवन में बैठक आयोजित हुईं…!

आदिवासी क्षेत्रों मैं 5 वी अनुसूची लागू हैं…पंचायत उपबंध (अनुसुचित क्षेत्रों पर विस्तार) अधिनियम 1996 लागू हैं, इस अधिनियम धारा 4 (ख) (घ) के तहत संसाधन पर नियंत्रण करने एवं विवाद निपटाने का अधिकार ग्राम सभाओं को मिला हुआ है, इसलिए आदिवासी समाज में डकेटी और हत्या को छोड़कर फौजदारी मामले को निपटाने का अधिकार ग्राम सभा को हैं, लेकीन आदिवासी क्षेत्र मैं IPC CRPC के तहत एवम हिन्दू विवाह कानून 1955,56 के तहत आदिवासी युवाओं को झूठे मुकदमे दर्ज कर जेल मैं डाला जा रहा हैं !

निर्णायक कदम : समाज कल्याण उत्थान और पुर्खा नियम कायदे कानून व्यवस्था बनाए जाए तो गांव सुधरेगा और परिवर्तन होगा इसलिए, कही गांव पटेल सही नहीं है,तो कही गांव अशामी सही नहीं है,जिसके कारण गांव में तोड़ फोड़ का सिस्टम गांव में चल रहा हैं, और धार्मिक गुलाम और नेतागिरी ऐसी व्यवस्था से भी समाज का भाई भाई में नहीं फुट चल री है इसलिए पुर्खा पारंपरिक रूड़ी गत नियम बनाए जाए !

निम्न बिंदू

1. राजी खुशी शादी करने पर 25682 रूपये (अक्षरी रूपये पच्चीस हजार छ: सौ बयासी) देजा तय हैं।
2. दूसरी डबल शादी करने पर 105000 रूपये बकरा सहीत ।
3. यदि दोनो विधवा होतो 12500 रूपये ।
4. बडी लडकी से पहले छोटी लड़की की शादी होने पर गाला 1000 रूपये एवं छान्लया 1000 रूपये।
5. पटेल लाग लडकी वालो की तरफ से 1000 रूपये है लडके वालो से लाग नही लेना हैं।
6.नाता का 1000 रूपये यदि करिबी का नाता(मामा, फुई का स्वयं का होने पर) 25000 रूपये दण्ड देना होगा।
7. लड़की पढ़ाई के नाम पर अधिक देजा लेने वाले पर आदिवासी रूढ़ी व परंपरा अनुसार समाज उसे दंडीत किया जायेगा..!
8. यदि कोई किसी लडकी की शादी गैर आदीवासी समाज में कर दी जाती है, तब लडकी के पिता या परिवार को
समाज की बात नही मानने पर दंडित किया जाएगा।
9. सगाई, मंगनी करी हुई लडकी को अगर कोई भगाकर या बहला फुसलाकर ले जाता हैं तो 20000 रूपये का
दण्ड हैं..!
10. डबल शादी में बिना कारण से लडकी व लडका का पिता शादी तोडेंगे तो दोनो पटेल एवं समिती का निर्णय
आखिरी होगा जो दोनो पक्षो को मान्य करना होगा।
11. हर काम में गावं की देजा कंट्रोल कमेटी भी निर्णय ले सकती हैं।
12. हर गांव में बैठक हेतु पटेल संसद भवन बनाना तय हुआ हैं।
13. महाराष्ट्र के पटेलो को मिलने वाले 5 हजार मानदेय (महाराष्ट्र पैटर्न) की तरह मध्यप्रदेश के आदिवासी पटेलो
को मानदेय मिलना चाहिए।

भिलाला समाज मैं राज़ी खुशी शादी करने पर देजा 55682-/रुपये
कोटवाल समाज 40025-/रुपये विभिन्न महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए..!

आगामी दिनों मैं सभी ब्लॉक क्षेत्रों मैं बैठक व कार्यक्रम आयोजित कर जनजाग्रण किया जायेगा और बड़े स्तर पर सभी क्षेत्रों का महासम्मेलन आयोजित कर क्षेत्रों मैं निवासरत बारेला समाज, भिलाला समाज, भील समाज तथा कोटवाल समाज के नियम सर्व सहमति प्रस्ताव पास किया जाएगा…!

सामाजिक बैठक मैं जनप्रतिनिधियों आते नहीं इसलिए समाज मैं आक्रोश हैं….! पटेल महापंचायत 09 अप्रेल 2023 चाचरिया कामोद, 16 अप्रैल धुलकोट जिला खरगोन कामोद, 20 अप्रैल 2023 को कनडगांव निवाली मैं होगी बैठक होगी…!

इस दौरान : महाराष्ट्र धूलिया जिला,खरगोन बड़वानी जिले तहसील ब्लॉक के सभी गांव पटेल,गांव डाहला, गांव पुजारा, गांव वारती, गांव कुटवाव और सभी जन संगठन आदिवासी कर्मचारी आधिकारी (आकास) आदिवासी युवा साथी समाज के जनप्रतिनिधि सरपंच पंच गण अन्य साथी ऊपस्थित रहें…!