Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

एक सप्ताह में छठी बार मिले कोरोना के 40 हजार से ज्यादा केस, एक्टिव केसों में आया उछाल

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

कोरोना वायरस संक्रमण के नए केसों ने एक बार फिर से चिंता बढ़ा दी है। 5 दिनों तक लगातार 40 हजार से ज्यादा केस मिलने के बाद मंगलवार को 31 हजार के करीब केस दर्ज किए गए थे। लेकिन एक बार फिर से यह आंकड़ा 40 के पार पहुंच गया है। बुधवार को सामने आए आंकड़ों के मुताबिक बीते एक दिन में देश में संक्रमण 41,965 नए केस मिले हैं। इस तरह से बीते एक सप्ताह में 6 दिन ऐसे गुजरे हैं, जब कोरोना के नए केसों का आंकड़ा 40 के पार रहा है। इसके चलते एक्टिव केसों में भी लगातार इजाफा हो रहा है। फिलहाल सक्रिय मामलों की संख्या 3,78,181 है। 

इसके अलावा कुल केसों के मुकाबले एक्टिव मामलों का प्रतिशत भी अब बढ़कर 1.15 हो गया है। एक तरफ दिन भर में 41,965 नए केस मिले हैं तो वहीं इस दौरान 33,964 लोग रिकवर हुए हैं। इस तरह से एक ही दिन में एक्टिव केसों में 8,000 के करीब इजाफा हो गया है। यही नहीं नए केसों में इजाफे के चलते रिकवरी रेट भी कम होता जा रहा है। फिलहाल यह 97.51 पर्सेंट है, जो पहले 98 फीसदी तक पहुंच गया था। इसके अलावा वीकली पॉजिटिविटी रेट भी 2.58 पर्सेंट हो गया है और डेली पॉजिटिविटी रेट 2.61 पर्सेंट है। बीते एक सप्ताह से पहले वीकली पॉजिटिविटी रेट 2 फीसदी से भी कम था। ऐसे में यह समझा जा सकता है कि नए केसों में तेजी ने कैसे संकट को बढ़ा दिया है।

अब नियंत्रण में है स्थिति, टलती दिख रही है तीसरी लहर

हालांकि अब भी स्थिति नियंत्रण में बनी हुई है और 50,000 के मनोवैज्ञानिक आंकड़े से संख्या कम ही है। हालांकि इस बीच राहत की खबर यह है कि देश में वैक्सीनेशन तेजी से हो रहा है और शायद इसी के चलते कोरोना की तीसरी लहर को टालने में सफलता मिल पा रही है। कहा यह भी जा रहा है कि वैक्सीनेशन के चलते तीसरी लहर पहले की तरह घातक नहीं होगी और दूसरी वेव के मुकाबले उसकी तीव्रता एक चौथाई ही रहेगी। 

एक ही दिन में लगे 1.33 करोड़ टीके, अगस्त में लगीं 18 करोड़ डोज

इस बीच मंगलवार को देश में 1.33 करोड़ टीके लगे हैं। यह वैक्सीनेशन अभियान शुरू होने के बाद से अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसके साथ ही देश में कुल 65.41 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। अकेले अगस्त महीने में ही देश में 18.3 करोड़ टीके लग चुके हैं। सरकार का कहना है कि सप्लाई में तेजी आई है और इसके चलते टीकाकरण अभियान को आने वाले दिनों में और गति मिल सकती है। यही नहीं हिमाचल जैसे राज्य में तो सभी वयस्कों को कोरोना टीके की पहली डोज दी जा चुकी है।

संबंधित खबरें

Source link